मुर्गी पालन योजना 2021 | Hen Poultry Farming Plan 2021

मुर्गी पालन योजना 2021 | Hen Poultry Farming Plan 2021

मुर्गी पालन योजना 2021

Post Date: 21/02/2021

Short Description :Hen Poultry Farming Plan 2021:बिहार सरकार द्वारा स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए न केवल आर्थिक सहायता / लोन प्रदान किया जाता है, बल्कि समय समय पर पशु पालन ,मत्स्य पालन को प्रफुल्लित किया है, उसी प्रकार मुर्गी पालन को प्रफुल्लित करने का भी कार्य किया है। चिकन और अंडे की लगातार मांग बढ़ रही है, जिस कारण मुर्गी पालन एक बहुत बड़े उद्योग के तौर उभरा है। जिसे मुर्गी पालन (Poultry farming) कहा जाता है मुर्गी पालन में प्रशिक्षण के लिए भी केंद्र स्थापित किये गए हैं। गांव के लोग छोटे स्तर पर घर में ही पोल्ट्री फार्मिंग शुरू कर सकते है और जो लोग बड़े स्तर पर पोल्ट्री फार्मिंग शुरू करना चाहते हैं, उनको बैकयार्ड मुर्गी पालन के लिए सरकार द्वारा बनाई गयी योजनाओं के अनुसार आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। इस पोस्ट में आपको पूरी जानकारी दी जाएगी अंत तक बने रहे।

मुर्गी पालन योजना 2021|Hen Poultry Farming Plan 2021
मुर्गी पालन योजना 2021|Hen Poultry Farming Plan 2021

मुर्गी पालन योजना 2021|Hen Poultry Farming Plan 2021

बिहार लेयर मुर्गी पालन की योजना 2021

आवेदन कैसे करे ?

  • इस मुर्गी पालन / पोल्ट्री फार्मिंग शुरू करने के लिए किसी भी सरकारी, अर्ध सरकारी या गैर सरकारी बैंक से सम्पर्क किया जा सकता है।
  • ऐसी तरह की कई प्रकार की योजनाएं मुर्गी पालन के लिए शुरू की गयी हैं, किसी भी योजना की जानकारी नजदीकी बैंक शाखा से सम्पर्क करके प्राप्त की जा सकती है और लोन के लिए अप्लाई किया जा सकता है।
  • आप सभी को पता होना चाहिए की आजकल सरकार मुर्गी पालन को स्वरोजगार के तौर पर प्रफुल्लित करने के लिए बहुत प्रयास कर रही है,
  • केंद्र के साथ-साथ राज्य सरकारें भी इसके लिए विशेष कदम उठा रही है और लोगों को इस रोज़गार को अपनाने के लिए प्रेरित कर रहीं हैं, जो भी इच्छुक व्यक्ति मुर्गी पालन को उद्योग के तौर पर स्थापित करना चाहते हैं, उन्हें अवश्य नज़दीकी बैंक शाखा से सम्पर्क करके लोन के लिए अप्लाई करके लोन प्राप्त करके उद्योग शुरू कर सकते हैं।

महत्वपूर्ण जानकारी

ONLINE START DATE

20/02/2021

 ONLINE LAST DATE

21 DAYS FROM ONLINE DATE

YOJANA NAME 

BIHAR POULTRY FORM YOJANA 2021

ऋण /स्वलागत

SN.NOकोटिब्रायलर मुर्गी की क्षमतारिक्ति फॉर्म (इकाई में)
01सामान्य जाति3,00061
02अनुसूचित जाती3,00034
03अनुसूचित जनजाति3,00007

इकाई लागत (लाख रुपये में)

आवेदन के समय आवेदक के पास वांछित राशी (लाख रु में)

अनुदान

भूमि की आवश्कता

स्वलागत

बैंक ऋण

इकाई लागत का प्रतिशत 

अधिकतम अनुदान (लाख रुपये में)

9

2.50

0.90

30 प्रतिशत

2.70

7000

9

1.80

0.90

50 प्रतिशत

4.50

7000

9

1.80

0.90

50 प्रतिशत

4.50

7000

आवेदन के लिए पात्रता

  • आवेदक किसी भी वर्ग से संबंधित नौजवान युवक युवतियां, किसान, महिलाएं कोई भी लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं।
  • अगर आवेदक ग्रामीण या शहरी इलाके से संबंध रखने वाले लोग भी पोल्ट्री फार्मिंग शुरू कर सकते हैं।
  • आप समूह में या व्यक्तिगत तौर पर भी मुर्गी पालन शुरू किया जा सकता है।

लोन लेने के लिए आवश्यक दस्तावेज़

  • आधार कार्ड
  • पहचान प्रमाण पत्र – जैसे ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी कार्ड, पैन कार्ड या पासपोर्ट
  • पते के प्रूफ में राशन कार्ड, बिजली बिल, टेलीफोन बिल, पानी बिल या फिर लीज एग्रीमेंट
  • बैंक अकाउंट स्टेटमेंट की फोटो कॉपी
  • मुर्गी पालन की प्रोजेक्ट रिपोर्ट
  • दो पासपोर्ट साइज फोटो

पोल्ट्री फार्मिंग को उत्साहित करने का उद्देश्य

  • इसका मुख्य उद्देश्य ग्रामीण और शहरी क्षेत्र में नए रोज़गार पैदा हों और विशेष तौर ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं और बेरोज़गारों के लिए रोज़गार मिल सके तथा साथ ही आय दोगुनी हो यही सरकार द्वारा पोल्ट्री फार्मिंग को उत्साहित करने का मुख्य उद्देश्य है।
  • इस उपलक्ष्य को पूरा करने के लिए केवल केंद्र सरकार ही नहीं बल्कि राज्य सरकारें भी समय समय पर कई योजनायें तैयार करती हैं और लोगों को लाभ पहुंचाती हैं।
  • इससे लोगो स्वरोजगार में रूचि बढ़ेगी तथा बेरोगारी की संख्या कम होगी।

पोल्ट्री फार्मिंग योजना 2021 के लिए लोन और सब्सिडी क्या है ?

  • मुर्गी पालन के लिए सरकार द्वारा 30%-50% तक सब्सिडी दी जाती है।
  • एससी/एसटी वर्ग के लोगों के लिए मुर्गी पालन के लिए सरकार द्वारा 50% तक सब्सिडी दी जाती है।
  • मुर्गी पालन के लिए कोई भी व्यक्ति लोन के लिए पालन कर सकता है।

पोल्ट्री फार्मिंग को रोज़गार के तौर पर शुरू करने के कारण

  • पोल्ट्री फार्मिंग के लिए कम पूंजी की आवश्यकता पड़ती है।
  • पोल्ट्री फार्मिंग के लिए किसी बड़े स्थान की आवश्यकता नहीं पड़ती।
  • पोल्ट्री फार्मिंग कम लागत में अच्छा मुनाफा देता है।
  • पोल्ट्री फार्मिंग के लिए उच्च रखरखाव की आवश्यकता भी नहीं पड़ती।
  • पोल्ट्री फार्मिंग के लिए लाइसेंस अनिवार्य नहीं।
  • चिकन और अंडे की विशाल वैश्विक मांग है, इसलिए पोल्ट्री फार्मिंग में फायदा ही फायदा है।
  • पोल्ट्री फार्मिंग का आसान विपणन होता है।
  • पोल्ट्री फार्मिंग से आमदनी में वृद्धि होगी और लोगों की आर्थिक स्थिति में भी सुधार होगा।
  • पोल्ट्री फार्मिंग से रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे, नौजवानों को रोजगार मिल जाएगा और बेरोज़गारी का अंत होगा।

पोल्ट्री फार्मिंग योजना 2021 जमीन की जरूरत

  • मुर्गी पालन / पोल्ट्री फार्मिंग की शुरुआत करने के लिए जगह का चुनाव करना बहुत आवश्यक है। गांव या शहर से थोड़ी दूरी पर ही पोल्ट्री फार्म शुरू करना चाहिए ताकि मुर्गियों पर प्रदूषण का असर न हो; न ही कसी प्रकार की दुर्गन्ध गांव या शहर के रिहायशी इलाके तक पहुंच सके।
  • पोल्ट्री फार्मिंग के लिए उस जगह का चुनाव करना चाहिए जहां पर पानी, साफ हवा-धूप और वाहनों के आने-जाने का अच्छा इंतजाम और जल निकासी का अच्छा प्रबंधन हो।
  • जगह की सही चुनाव से आप मुर्गियों को स्वस्थ्य रख सकते है तथा नुकसान से बच सकते है।

Don't Forget to Give Ratings

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)

Loading…

Important Link For Apply
3000 क्षमता के लिए ऑनलाइन Click Here
5000 से 10000 क्षमता के लिए ऑनलाइन
Click Here
Official Notification3000 क्षमता              5000 क्षमता               10000 क्षमता
Official WebsiteClick Here
News NoticeClick Here
Step By Step ProcessClick Here
बकरी फॉर्म खोले मिलेगा 50-60% सब्सिडी
Click Here
5/5

3 thoughts on “मुर्गी पालन योजना 2021 | Hen Poultry Farming Plan 2021”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top